Baba Balak Nath

Nath ji

आता रहूंगा दरबार तेरे, अपना सर झुकाने को सौ जन्म भी कम है बाबा ” तेरा कर्ज चुकाने को !! जय बाबा जी दी

Baba Balak nath

आता रहूंगा दरबार तेरे, अपना सर झुकाने को सौ जन्म भी कम है बाबा ” तेरा कर्ज चुकाने को !! जय बाबा जी दी

© 2018 God is one word. All rights reserved.