Krishna

*??मेरे ?“कान्हा” ??*
*खुद चले आओ या हमको बुला लो,*
*कि जिन्दगी अब तन्हा बसर नहीं होती।*
*आँसुओं से भीगा रहता है दामन मेरा ,*
*जाने क्यों तुमको खबर नहीं होती ।।*
???????

*।।मेरे ?कान्हा ?मेरी जिंदगी ।।*
*???राधे???कृष्णा???*

© 2018 God is one word. All rights reserved.