jai shri ram

Jai shri ram

Jai shri ram

“प्रेम मगन कौसल्या निसिदिन जात न जान। सुत सनेह बस माता बालचरित कर गान।।’ लोचन निज पद जंत्रित जाहिं प्रान केहि बाट।।

© 2017 God is one word. All rights reserved.